Alone Shayari | Tanhai Shayari | Feeling Alone Status with Image

    As we all are familiar with alone or tanhai word. But those who face it or suffered from this situation have the best knowledge with us. For them today we come here with great Alone Shayari Status that will help you a lot to remove your loneliness. You will feel better on reading Hindi Tanhai Shayari, Sad Alone Shayari, Tanhai Shayari Status, Tanhai quotes, Akelapan Shayari, Alone Shayari SMS etc. from this page.

    Also you can share them with your friends who are also suffering from such situation on social media. We have a large collection of Tanhai Shayari Status with photos in Hindi and Hinglish language.

    Tanhai Shayari

    As the name suggest that what you are going to get inside in this page. Loneliness is the worst feeling of the world. Mostly those who are in love and somehow their breakup take place those are the best example of personalities who defines the meaning of loneliness in a better way.

    Not only lovers face the difficulty of loneliness but also there are many type of persons who suffers from this worst situation like our soldiers, our family members who are working in a big city or in foreign country, those who have lost their son, brother, father, mother or any member of their family are a few example of Tanhai. For all type of personalities this page have Alone Shayari Status in Hindi with photos.

    Hindi Alone Shayari Status 

    In the moments of loneliness this Alone Hindi Shayari Status will become your true companion. Here you will find a large collection of Tanhai Shayari Status. We will guarantee you one thing that on this page you will find that kind of shayari that you are searching for. Also if you have any type of shayari, sms, poetry or quotes then you can share them with us. We will post them on this page with your name. If you like this page and our Alone Shayari Status In Hindi then please share this page with your friends and specially to those who are alone.

    कितनी अजीब है इस शहर की तन्हाई भी,
    हजारों लोग हैं मगर कोई उस जैसा नहीं है।
    kitane ajeeb hai is shahar ke tanhai bhi,
    hajaaron log hain magar koi us jaisa nahin hai.
    ये भी शायद ज़िंदगी की इक अदा है दोस्तों,
    जिसको कोई मिल गया वो और तन्हा हो गया।
    ye bhi shaayad zindagi ki ek ada hai doston,
    jisako koi mil gaya wo aur tanha ho gaya.
    यूँ तो हर रंग का मौसम मुझसे वाकिफ है मगर,
    रात की तन्हाई मुझे कुछ अलग ही जानती है।
    yoon to har rang ka mausam mujhase vaakifh hai magar,
    raat ki tanhai mujhe kuchh alag hi jaanati hai.
    मेरी पलकों का अब नींद से कोई ताल्लुक नही रहा,
    मेरा कौन है ये सोचने में रात गुज़र जाती है…!!!
    mere palakon ka ab neend se koi taalluk nahi raha,
    mera kaun hai ye sochane mein raat guzar jaati hai…!!!
    वो हर बार मुझे छोड़ के चले जाते हैं तन्हा,
    मैं मज़बूत बहुत हूँ लेकिन कोई पत्थर तो नहीं हूँ।
    vo har baar mujhe chhod ke chale jaate hain tanha,
    main mazaboot bahut hoon lekin koi patthar to nahin hoon.
    जब से देखा है चाँद को तन्हा,
    तुम से भी कोई शिकायत ना रही।
    jab se dekha hai chaand ko tanha,
    tum se bhi koi shikaayat na rahi.
    एक तुम्हीं थे जिसके दम पे चलती थी साँसें मेरी,
    लौट आओ कि ज़िंदगी से वफ़ा निभाई नहीं जाती।
    ek tumhi the jisake dam pe chalati thi saansen meri,
    laut aao ki zindagi se vafa nibhai nahin jaati.
    एक तेरे ना होने से बदल जाता है सब कुछ,
    कल धूप भी दीवार पे पूरी नहीं उतरी।
    ek tere na hone se badal jaata hai sab kuchh,
    kal dhoop bhi deevaar pe poori nahin utari.
    मुझको मेरी तन्हाई से अब शिकायत नहीं है,
    मैं पत्थर हूँ मुझे खुद से भी मोहब्बत नहीं है।
    mujhako meri tanhai se ab shikaayat nahin hai,
    main patthar hoon mujhe khud se bhi mohabbat nahin hai.
    कुछ तो तन्हाई की रातों में सहारा होता,
    तुम न होते न सही... ज़िक्र तुम्हारा होता।
    kuchh to tanhai ki raaton mein sahaara hota,
    tum na hote na sahi... zikr tumhaara hota.
    तेरे बगैर इस मौसम में वो मजा कहाँ,
    काँटों की तरह चुभती है बारिश की बूँदें।
    tere bagair is mausam mein vo maja kahaan,
    kaanton ki tarah chubhati hai baarish ki boonden.
    हर वक़्त का हँसना तुझे बर्बाद ना कर दे,
    ​तन्हाई के लम्हों में कभी रो भी लिया कर।
    har waqt ka hasana tujhe barbaad na kar de,
    ​tanhai ke lamhon mein kabhi ro bhi liya kar.
    तन्हाईयाँ कुछ इस तरह से डसने लगी मुझे,
    मैं आज अपने पैरों की आहट से डर गया।
    tanhaiyaan kuchh is tarah se dasane lagi mujhe,
    main aaj apane pairon ki aahat se dar gaya.
    उसकी आरज़ू अब खो गयी है,
    खामोशियों की आदत सी हो गयी है,
    न शिकवा रहा न शिकायत किसी से,
    बस एक मोहब्बत है,
    जो इन तन्हाइयों से हो गई है।
    uski aarazoo ab kho gayi hai,
    khaamoshiyon ki aadat see ho gayi hai,
    na shikava raha na shikaayat kisi se,
    bas ek mohabbat hai,
    jo in tanhaiyon se ho gai hai.
    मेरी आवाज उसे सुनाई नहीं देती,
    अब तो कोई उम्मीद भी दिखाई नहीं देती,
    एहसास उसे और सब लोगों का है,
    बस मेरी ही तन्हाई उसे दिखाई नहीं देती।
    meri aavaaj use sunai nahin deti,
    ab to koi ummeed bhi dikhai nahin deti,
    ehasaas use aur sab logon ka hai,
    bas meri hi tanhaee use dikhai nahin deti.
    तेरा पहलू तेरे दिल की तरह आबाद रहे,
    तुझपे गुजरे न क़यामत शब-ए-तन्हाई की।
    tera pahaloo tere dil ki tarah aabaad rahe,
    tujhape gujare na qayaamat shab-e-tanhai ki.
    रोते हैं तन्हा देख कर मुझको वो रास्ते,
    जिन पे तेरे बगैर मैं गुजरा कभी न था।
    rote hain tanha dekh kar mujhako vo raaste,
    jin pe tere bagair main gujara kabhi na tha
    ना ढूंढ़ मेरा किरदार दुनियाँ की भीड़ में,
    वफादार तो हमेशा तन्हा ही मिलते है ।
    na dhoondh mera kiradaar duniyaan ki bheed mein,
    vaphaadaar to hamesha tanha hi milate hai .
    बदलते हुए लोगो के बारे में आखिर क्या कहूँ मैं..?
    मैंने तो अपना ही प्यार किसी और का होते देखा हैं..
    badalate hue logo ke baare mein aakhir kya kahoon main..?
    mainne to apana hi pyaar kisi aur ka hote dekha hain..
    बहुत ज्यादा जुल्म करती हैं तुम्हारी यादे,
    सो जाऊ तो जगा देती हैं, उठ जाऊ तो रुला देती हैं..
    bahut jyaada julm karatee hain tumhaari yaade,
    so jaoo to jaga deti hain, uth jaoo to rula deti hain..
    सब Busy है किसी ना किसी काम में पर हम आज भी खाली बैठे है आपके इंतज़ार में !!
    sab busy hai kisi na kisi kaam mein
    par ham aaj bhi khaali baithe hai aapake intazaar mein !!
    दिल तो पहले होता था सीने में ,
    अब तो दर्द लिए फिरते है |
    dil to pahale hota tha seene mein ,
    ab to dard liye phirate hai
    मैंने सुना था की मोहब्बत तो सात जन्म तक साथ देती हैं,
    लेकिन हमे तो इस जन्म में ही छोड़ कर चली गई.
    mainne suna tha ki mohabbat to saat janm tak saath deti hain,
    lekin hame to is janm mein hi chhod kar chali gayi.
    आज फिर ठण्डी रोटी खाई,
    माँ, आज फिर तुम बहुत याद आई..
    aaj phir thandi roti khayi,
    maan, aaj phir tum bahut yaad aayi..
    अजीब सी वेताबी रहती है तेरे बिना,
    रह भी लेते हैं और रहा भी नहीं जाता।
    ajeeb si betaabi rahati hai tere bina,
    rah bhi lete hain aur raha bhi nahin jaata.
    वो न ही मिलती तो अच्छा था,
    बेकार में मोहब्बत से नफरत हो गई..
    vo na hi milati to achchha tha,
    bekaar mein mohabbat se napharat ho gayi..
    हमने कब कहा के
    कीमत समझो तुम हमारी,
    गर हमे बिकना ही होता
    तो आज यूँ अकेले न होते।
    hamane kab kaha ke
    keemat samajho tum hamaari,
    gar hame bikana hi hota
    to aaj yoon akele na hote.
    कितना भी दुनिया के लिए हँस के जी लें हम,
    रुला देती है फिर भी किसी की कमी कभी-कभी।
    kitana bhi duniya ke liye hans ke jee len ham,
    rula deti hai phir bhi kisi ki kami kabhi-kabhi.
    कुदरत के इन हसीन नजारों का हम क्या करें,
    तुम साथ नहीं तो इन चाँद सितारों का क्या करें।
    kudarat ki in haseen najaaron ka ham kya karen,
    tum saath nahin to in chaand sitaaron ka kya karen.
    अपनो को दूर होते देखा,
    सपनो को चूर होते देखा,
    अरे लोग कहते हैँ की फूल कभी रोते नही,
    हमने फूलोँ 🌺को भी तन्हाइयोँ मे रोते 😥देखा.
    apano ko door hote dekha,
    sapano ko choor hote dekha,
    are log kahate hain ki phool kabhi rote nahi,
    hamane phoolon 🌺 ko bhi tanhaiyon me rote 😥dekha.
    टूट जाऊँ मोहब्बत में या फिर टूट कर मोहब्बत करुँ,
    इस बार मेरे पास बस इक यहीं रास्ता हैं
    toot jaoon mohabbat mein ya phir toot kar mohabbat karun,
    is baar mere paas bas ik yaheen raasta hain
    मेरी आँखों में देख आकर
    हसरतों के नक्श,
    ख्वाबों में भी तेरे मिलने की
    फरियाद करते हैं।
    meri aankhon mein dekh aakar
    hasaraton ke naksh,
    khvaabon mein bhi tere milane ki
    phariyaad karate hain.
    रात को जब चाँद सितारे चमकते हैं,
    हम हरदम आपकी याद में तड़पते हैं,
    आप तो चले गए हो छोड़ के हमको,
    मगर हम आपसे मिलने को तरसते हैं ।
    raat ko jab chaand sitaare chamakate hain,
    ham haradam aapaki yaad mein tadapate hain,
    aap to chale gae ho chhod ke hamako,
    magar ham aapase milane ko tarasate hain .
    कहने लगी है अब तो मेरी तन्हाई भी मुझसे,
    मुझसे कर लो मोहब्बत मैं तो बेवफा भी नहीं।
    kahane lagi hai ab to meri tanhai bhi mujhase,
    mujhase kar lo mohabbat main to bevapha bhi nahin।
    हम अंजुमन में सबकी तरफ देखते रहे,
    अपनी तरह से कोई हमें अकेला नहीं मिला।
    ham anjuman mein sabaki taraph dekhate rahe,
    apani tarah se koi hamen akela nahin mila.
    उनको कहना कि आकर ये दिल भी ले जाये
    अब ये मेरी सुनता ही नहीं फिर इसका करूँ क्या
    unako kahana ki aakar ye dil bhi le jaaye
    ab ye meri sunata hee nahin phir isaka karoon kya
    दर्द की दीवार पर फरियाद लिखा करते हैं,
    हर रात तन्हाई को आबाद किया करते है
    dard ki deevaar par phariyaad likha karate hain,
    har raat tanhai ko aabaad kiya karate hai
    चुनौतियों से लड़ना उसे खूब आता है,
    इसलिए तो वो तनहा चला जाता है।
    chunautiyon se ladana use khoob aata hai,
    isaliye to vo tanhaa chala jaata hai.
    ख्वाब बोये थे और अकेलापन काटा है,
    इस मोहब्बत में यारों बहुत घाटा है।
    khvaab boye the aur akelaapan kaata hai,
    is mohabbat mein yaaron bahut ghaata hai.
    सबसे जुदा होकर, हम गुनगुनाते चले गऐं
    आरज़ू हथेली पर रखकर, हम मुस्कुराते चले गऐं ।
    sabase juda hokar, ham gunagunaate chale gaain
    aarazoo hatheli par rakhakar, ham muskuraate chale gaain .
    तुझसे रिश्ता बनाने की यही थी मेरी वजह
    के औरों के संग मुस्कुराना हमें अच्छा ना लगा
    tujhse rishta banaane ki yahi thi meri vajah
    ke auron ke sang muskuraana hamen achchha na laga
    कहा था उन्होंने कि तुम ‪‎अलग हो सबसे, ‪
    हमें तो लगा था सिर्फ कहा है पर उन्होंने तो कर भी दिया।
    kaha tha unhonne ki tum ‪‎alag ho sabase, ‪
    hamen to laga tha sirph kaha hai par unhonne to kar bhi diya.
    तन्हाई में मैं तेरी सुनता हूँ,
    तेरे साथ के हर पल सपने बुनता हूँ।
    tanhai mein main teri sunata hoon,
    tere saath ke har pal sapane bunata hoon.
    छोड़ देंगे मोहब्बत करना यह वादा है मेरा;
    ज़रा ज़िंदगी को सांसों से रुक्सत तो होने दे ।
    chhod denge mohabbat karana yah vaada hai mera;
    zara zindagi ko saanson se ruksat to hone de .
    खुद से खुदी को जुड़ा कर गयी,
    यादें तनहा यूँ बेइंतेहा कर गयी।
    khud se khudi ko juda kar gayi,
    yaadein tanhaa yoon beintehaa kar gayi.
    अकेला होने का सबसे बड़ा फायदा ये है कि आपको कोई चोट नहीं पहुंचा सकता।
    akela hone ka sabase bada phaayada ye hai ki aapako koi chot nahin pahuncha sakata.
    बेपनाह मोहब्बत की सज़ा पाए बैठे हैं,
    हासिल कुछ ना हुआ,
    सब कुछ लुटाये बैठे हैं।
    bepanaah mohabbat ki saza pae baithe hain,
    haasil kuchh na hua,
    sab kuchh lutaaye baithe hain.
    दुनिया आज भी मेरी दीवानी है और एक हम है कि उनके इंतज़ार में तन्हा बैठे रहते है।
    duniya aaj bhi meri deevaani hai aurm,
    ek ham hai ki unake intazaar mein tanha baithe rahate hai.
    लाज़िम नहीं कि उसको भी मेरा ख्याल हो !
    मेरा जो हाल है वही उसका भी वही हो
    laazim nahin ki usako bhi mera khyaal ho !
    mera jo haal hai vahi usaka bhi vahi ho
    हमने तो उनके लिए इस दुनिया को छोड़ दिया
    और
    वो हमारे लिए अपनी एक छोटी सी आदत नहीं बदल पाई।
    hamane to unaki liye is duniya ko chhod diya
    aur
    vo hamaare liye apani ek chhoti si aadat nahin badal payee.
    जिन्दगी न जाने किस मुकाम तक पहुँच गई है
    तन्हाई में रोना पड़ता है और
    महफ़िल में हँसना पड़ता है।
    jindagi na jaane kis mukaam tak pahunch gayi hai
    tanhaai mein rona padata hai aur
    mahafil mein hansana padata hai.