Bholenath Status – Mahakal Status Shayari | Lord Shiva, Mahadev, Bhole Baba Quote Photo

    Every Indian knows about Lord Shiva. Also every Hindu family worship Bholenath. There is a lot to write or discuss about Mahakal. But today we are here with Bholenath Status. Here in the below of this page you will find the latest and the unique Mahakal Status, Shiv Shayari, Bholenath Status in Hindi, Shiv Shankar Status, Mahadev Status etc.

    Lord Shiva fulfils every demand of their worshiper. Also for saving the earth Mahadev drink poison. That’s the reason His throat looks blue. Today almost every Indian share Mahadev Status on social media to show their love with the creator of Universe.

    Mahakal Status

    हिन्दुस्तान ही क्या ये पूरी दुनिया देवों के देव महादेव को जानती है और उनकी पूजा करती है। सृष्टि के रचयिता, हम सब के पालनहार भगवान भोलेनाथ युगों युगों से अपने भक्तों की हर मनोकामना पूरी करते आये हैं और करते रहेंगे। सभी भक्तजन भी अपनी श्रद्धा और भक्ति दर्शाने के लिए भगवान शिव की आराधना करते हैं और उनसे संबंधित हर प्रकार की फोटोज और शायरी सोशल मीडिया पर शेयर करते हैं। ऐसे में हम उन सब भक्तजनो के लिए Mahakal Status का एक बहुत बड़ा कलेक्शन लेकर आएं हैं जो उम्मीद करते हैं की आप सभी को बहुत पसंद आएगा।

    Mahadev Status

    आज के इस युग में भी जितनी दुनिया भगवान भोले नाथ को चाहती है उतनी शायद ही किसी अन्य देवी या देवता को चाहती हो। साथ ही भगवान शंकर की सोशल मीडिया पर जो फैन फोल्लोविंग है वो किसी देवी देवता की नहीं। इसीलिए आज हम आपके लिए Mahadev Status लेकर आये हैं जो आपको हिंदी और इंग्लिश दोनों भाषाओं में देखने को मिलेगी वो भी भगवान शिव शम्भू के फोटोज के साथ।  आप हमारे इस पेज से भोले बाबा की जितनी चाहें उतनी फोटोज और शायरी ले सकते हैं वो भी बिलकुल फ्री में।  अगर आपको Mahadev Shayari Status पसंद आये तो आप हमारे इस पेज को जरूर लाइक कीजियेगा।

    महादेव तेरे बगैर सब व्यर्थ हैं मेरा,
    मैं शब्द तेरा, तू अर्थ हैं मेरा ।।

    जब ज़माना मुश्किल में दाल देता हैं,
    तब मेरे भोले हज़ारों रास्ते निकाल देता हैं ।

    कोई दौलत का दीवाना, कोई शोहरत का दीवाना,
    शीशे सा मेरा दिल, मैं तो सिर्फ महादेव का दीवाना ।

    ना पूछो मुझसे मेरी पहचान, मैं तो भस्मधारी हूँ,
    भस्म से होता जिनका श्रृंगार, मैं उस भोलेनाथ का पुजारी हूँ ।

    जिनके रोम-रोम में शिव हैं, वहीं विष पिया करते हैं,
    जमाना उन्हें क्या जलायेंगा, जो श्रृंगार ही अंगार से करते हैं ।

    ना जीने की खुशी, ना मौत का गम,
    जब तक हैं दम, महादेव के भक्त रहेंगे हम ।

    मन छोड़ व्यर्थ की चिंता तू, शिव का नाम लिये जा,
    शिव अपना काम करेंगे तू अपना काम किये जा ।

    हे शिवशंकर, हे भोलेनाथ,
    जीतेंगे हम हर बाजी, बस देना हरपल साथ ।

    ये नशा किसी शीशी का नही जो उतर जाये,
    ये नशा नाथो के नाथ भोलेनाथ का हैं, जो चढ़ता ही जाय ।

    राम उसका रावण भी उसका, जीवन उसका मरण भी उसका,
    ताण्डव हैं और ध्यान भी वो हैं, अज्ञानी का ज्ञान भी वो हैं ।